Category: Sharabi Shayari

0

Hindi Sharabi Shayari – हम तो जी रहे थे उनका नाम लेकर

हम तो जी रहे थे उनका नाम लेकर, वो गुज़रते थे हमारा सलाम लेकर, कल वो कह गये भुला दो हुमको, हमने पुछा कैसे वो चले गये हाथो मे जाम देकर ! Sharabi Hindi...

0

हिन्दी शराबी शायरी – हाथ में जाम है पर पीने का होश नहीं

रात चुप चाप है पर चाँद खामोश नहीं, कैसे कह दूँ कि आज फिर होश नहीं, ऐसा डूबा हूँ मैं तुम्हारी आँखों में, हाथ में जाम है पर पीने का होश नहीं ! Raat...