Category: Poem

0

Hindi Poem in Hindi Font – जन्म की वजह से होगी तूँ बदनाम इस जमाने में

जन्म की वजह से होगी तूँ बदनाम इस जमाने में देखा ना मैंने सच्चा दिल तुझ्सा कोई इस जमाने में घरों की दीवारों में झूठी बस्ती है जो यह दुनिया उनके झूठ से भी...

1

Hindi Poems in Hindi Language – कतरा कतरा करके कटती ही जा रही है यह ज़िन्दगी

कतरा कतरा करके कटती ही जा रही है यह ज़िन्दगी पल पल में सिमट कर सिमटती ही जा रही है ज़िन्दगी एक से दूसरी, दूसरी से तीसरी आशाओं में है ज़िन्दगी कतरा कतरा करके...

1

किसान पर हिंदी कविता – जमीन जल चुकी है आसमान बाकी है

जमीन जल चुकी है आसमान बाकी है, सूखे कुँए तुम्हारा इम्तहान बाकी है, बरस जाना इस बार वक़्त पर हे मेघा, किसी का मकान गिरवी है, किसी का लगान बाकी है !

0

Best Romantic Love Poems in Hindi – ये दिल किसी को पाना चाहता है

ये दिल किसी को पाना चाहता है, और उसे अपना बनाना चाहता है, खुद तो चाहता है ख़ुशी से धड़कना उसका दिल भी धड़काना चाहता है, जो हँसी खो गई थी बरसों पहले कहीं,...

0

Mohabbat Poem in Hindi – तेरे लिबास से मोहब्बत की है

“तेरे लिबास से मोहब्बत की है, तेरे एहसास से मोहब्बत की है… तू मेरे पास नहीं फिर भी, मैंने तेरी याद से मोहब्बत की है… कभी तू ने भी मुझे याद किया होगा, मैंने...

5

Stop Acid Attacks Poem in Hindi – चलो फेंक दिया सो फेंक दिया

एक लडकी ने एक लडके का प्यार कबुल नही किया तो लडके ने लडकी के मुँह पर तेजाब फेक दिया तो लडकी ने लडके से चंद पंक्तीयाँ कही आप एक बार इन पंक्तीयो को...

0

Happy New Year 2016 – जिन्दगी का एक ओर वर्ष कम हो चला

जिन्दगी का एक ओर वर्ष कम हो चला, कुछ पुरानी यादें पीछे छोड़ चला.. कुछ ख्वाईशैं दिल मे रह जाती हैं.. कुछ बिन मांगे मिल जाती हैं .. कुछ छोड़ कर चले गये.. कुछ...

0

Hindi Poem – दिल के टूटने पर भी हसना

दिल के टूटने पर भी हसना, शायद ज़िंदादिली इसे कहते है, ठोकर लगने पर भी मंजिल तक भटकना, शायद तलाश इसी को केहते है, किसी को चाह कर भी ना पाना, शायद चाहत इसी...

1

मेरे जीने या मरने से उसे क्या फ़र्क़ पड़ता है !

हवा बन कर बिखरने से, उसे क्या फ़र्क़ पड़ता है ? मेरे जीने या मरने से, उसे क्या फ़र्क़ पड़ता है ? उसे तो अपनी खुशियों से, ज़रा भी फुर्सत नहीं मिलती ? मेरे...

0

Good Night Hindi Poem – मेरे ख्वाब मे तेरा आना

मेरे ख्वाबों में यूँ तेरा चुपके से आना, मुझे देख तेरा प्यार से यूँ मुस्कराना, ★★☆☆●●♡♥○○★★☆☆ कर जाता है मेरे दिल को बेकरार ये, तेरा नींद से मुझे यूँ इस तरह जगाना, ★★☆☆●●♡♥○○★★☆☆ लेकिन...

1

मैं तो झोंका हूँ हवा का उड़ा ले जाऊँगा – Dr Kumar Vishwas Hindi Poetry

मैं तो झोंका हूँ हवा का उड़ा ले जाऊँगा जागती रहना तुझे तुझसे चुरा ले जाऊँगा हो के कदमों पे निछावर फूल ने बुत से कहा ख़ाक में मिल के भी मैं खुश्बू बचा...

जिसकी धुन पर दुनिया नाचे ! Dr. Kumar Vishwash Poem in Hindi 0

जिसकी धुन पर दुनिया नाचे ! Dr. Kumar Vishwash Poem in Hindi

जिसकी धुन पर दुनिया नाचे, दिल ऐसा इकतारा है, जो हमको भी प्यारा है और, जो तुमको भी प्यारा है. झूम रही है सारी दुनिया, जबकि हमारे गीतों पर, तब कहती हो प्यार हुआ...